Saturday, July 2, 2016

शनि दोष मिटायें

शनि दोष मिटायें : ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि को सबसे ज्यादा क्रूर ग्रह माना गया है और इसी वजह से इन्हें अनिष्ट, अशुभता और दुःख देने वाला ग्रह भी माना जाता है. किन्तु ऐसा है नही क्योकि शनि बहुत ही न्याय प्रिय ग्रह है और इसीलिए शनि देव को न्यायाधीश भी माना गया है. ये सूर्य देव के पुत्र है, अपने पिता से दूर होने के कारण ये प्रकाशहीन है और इसीलिए इन्हें अंधकारमयी, विद्याहीन भावहीन, उत्साह हीन, निर्दयी, अभावग्रस्त ग्रह माना जाता है. अगर आप भी शनि के प्रभाव से ग्रस्त है तो शनि देव के अशुभ फल को दूर करने के लिए आप इन उपायों को अपनाये.


-    आप शनिवार के दिन काले रंग की चिड़िया को खरीदकर उसे दोनों हाथो में ले कर आसमान में उड़ा दें. आपकी सारी तकलीफे भी चिड़िया की तरह ही उड़ जाएगी.


-    आप शिव जी का पूजन कीजिये और शिवलिंग पर प्रतिदिन जल चढ़ाये. साथ ही आप शनिवार के दिन लोहे का त्रिशूल महाकाल शिव, महाकाल भैरव और महाकाली के मंदिर में अर्पित करें.

-    साथ ही आप हनुमान जी की भी प्रतिदिन पूजा करें. 


-    काले तिल, काली उड़द, काली गाय, काले कपडे, तेल, लोहे के बर्तन आदि का किसी जरूरतमंद व्यक्ति को दान कीजिये.
Shani dosha or Uske Jyotishi Upaay
शनि दोष  के उपाय 
-    आप गरीबो को खाना खिलाएं और उनकी मदद भी जरुर कीजिये, साथ ही आप काले कुते को दूध पिलाना न भूले.


-    हो सके तो आप शनिवार के दिन व्रत भी रखना शुरू कर दें और शनिवार के दिन ही आप गेहूं में काले चने मिला कर पिसवाये.


-    आप पीपल के पेड़ की पूजा कीजिये, उस पर जल अर्पित कीजिये और उसकी परिक्रमा भी जरुर करें.

-    आप शनिवार के दिन काली उड़द को पीस कर उसके आटे की गोलियां बना ले और फिर आप उन्हें मछलियों को खिलाएं.


-    आप किसी भी शुक्ल पक्ष के पहले शनिवार के दिन 10 बादाम लेकर हनुमान मंदिर में जाएँ, आप मंदिर में 5 बादाम अर्पित कर दें और बचे हुए 5 बादाम को आप अपने घर में लाकर किसी लाल कपडे में बाँध ले और उसे धन के स्थान पर रख ले.


-    आप शनिवार के दिन शमशान घाट में लकड़ियाँ दान करे. आप इस उपाय को 5 शनिवार तक अपनाएं.  


-    इसके अलावा आप शनिवार की रात को सरसों का तेल हाथ और पैरो के नाखुनो पर लगा कर सोये. साथ ही आप शनिवार की शाम को पीपल के पेड़ के नीचे तील या सरसों के तेल का दीपक जलाएं.

-    7 शनिवार के दिन आप काले तिल, आटा और शक्कर को मिला कर उनका एक पाउडर बना ले और उन्हें चीटियों को खिलाएं.


-    आप शनिवार के दिन शाम को काले कुत्ते को चुपड़ी हुई रोटी खिलाये. अगर कुत्ता रोटी को खा लेता है तो समझ जाओ कि शनि ग्रह की वजह से मिली हुई आपकी सारी समस्याओ का समाधान हो गया है. लेकिन इस बात का खास ध्यान रखे कि कुत्ते को अपने घर के द्वार पर न लाये अपितु उसे सड़क पर ही रोटी खिलाये.


अगर शनि आपकी कुंडली में किसी भाव पर विराजमान होकर आपको परेशान कर रहा है तो आप इन उपायों को अपनाये –


प्रथम भाव में शनि :

-    अगर शनि आपकी कुंडली के प्रथम भाव में विराजमान है तो आप रोज अपने माथे पर दूध और दही का तिलक लगाये.


-    आप शनिवार के दिन ताम्बे के चार सांप बनवार कर नदी में प्रवाहित करे.


-    आप भगवान शनिदेव और हनुमान जी के मंदिर में जाकर ये प्रार्थना करे कि हे प्रभु ! हमसे जो पाप हुए है, उनके लिए हमें क्षमा करे और हमारा कल्याण करे.


-    जब भी आपको समय मिले आप शनि दोष निवारक मंत्र का जाप करे.


दुसरे भाव में शनि :

-    सबसे पहले तो आप शराब और मांस का त्याग करे.


-    आप सांपो को दूध पिलाना शुरू करे और कभी भी आप सांप को न तो परेशान करे और ना ही उन्हें कभी मारे.


-    कभी भी आप ऐसी गाय और भैस को ना पाले जिनके दो रंग हो.


-    आप शनिवार के दिन किसी तालाब में मछलियों को आटा खिलाएं.


-    आप शनिवार के दिन कभी भी सिर पर तेल न लगाये और आप प्रतिदिन सोते समय दूध का सेवन जरुर करे.


तीसरे भाव में शनि :

-    अगर आपके घर में मुख्य द्वार दक्षिण दिशा कि तरफ है तो आप उसे जल्दी ही बंध करवा दें.

-    आपको रोज शनि चालीसा का पाठ करना चाहिए और आप दुसरो को भी शनि चालीसा को भेंट स्वरुप दें.


-    आपको अपने गले में शनि यन्त्र को भी धारण करना चाहिए.


-    आप अपने घर में एक काले कुत्ते को भी जरुर पाले और उस कुत्ते का सम्पूर्ण ध्यान रखे.

-    आप कभी भी अपने घर के अंदर हैंडपंप न लगवाये.


चतुर्थ भाव में शनि :

-    अगर आपकी कुंडली के चौथे भाव में शनि है तो आप कभी भी रात्री को दूध न पिए.

-    आप कभी भी पराई स्त्री के साथ अवैध संबंध न बनाये.

-    इसके अलावा आपको कौओ को दाना डालना चाहिए.

-    शनिवार के दिन आप कुएं में कच्चा दूध डाले.

-    साथ ही आप बहती नदी में एक बोतल शराब को प्रवाहित कर दे.


पंचम भाव में शनि :

-    आपको अपने पुत्र के जन्मदिन पर मिठाई की जगह नमकीन वस्तुएं बांटनी चाहिए.

-    आप शनि देव की रोज पूजा करे और शनि यन्त्र को धारण करे.

-    आपको शनिवार के दिन अपने वजन के दसवे हिस्से के बराबर, बादाम को नदी में प्रवाहित करना चाहियें.


छटवे भाव में शनि :

-    आपको कभी भी चमड़े के जूते, बैग, अटैची का उपयोंग नही करना चाहिए.

-    आपको शनिवार के दिन वर्त रखना चाहिए.

-    आप साफ़ नदी के जल में चार नारियल को प्रवाहित कर दे.

-    आप शनिवार के दिन काली गाय को घी से रोटी को चुपड़ कर नियमित रूप से खिलाये.


सप्तम भाव में शनि :

-    अगर आपके सप्तम भाव में शनि है तो आप कभी भी किसी पराई स्त्री के साथ अवैध संबंध न बनाये.

-    आपको मिट्टी के किसी पात्र में शहद को भर कर किसी खेत की मिट्टी के नीचे दबा देना चाहिए.

-    आप अपने हाथ में घोड़े को नाल का शनि छल्ला धारण करें.


अष्टम भाव में शनि :

-    अगर हो सके तो आप अपने गले में चांदी की एक चेन को धारण जरुर करे.

-    आप शनिवार के दिन एक काले कपडे को लेकर उसमे 8 किलो काली उड़द की दाल को डाल ले, फिर आप उस उड़द को बहती नदी के पानी में बहा दें.

-    आपके लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होगा अगर आप सोमवार के दिन चावल का दान करते है. 


नवम भाव में शनि :

-    अगर आपकी कुंडली के नवम भाव में शनि है तो आपको इसके उपाय के लिए अपने पास हमेशा एक पीले रंग का रुमाल जरुर रखना चाहिए.

-    आपको साबुत मुंग को मिट्टी के किसी बर्तन में भर कर नदी में प्रवाहित करनी चाहिए.

-    आप गुरुवार के दिन सवा 6 रत्ती का पुखराज धारण करे.

-    आप शनिवार के दिन किसी तालाब या नदी में मछलियों को आटा जरुर डाले.
 
शनि दोष और उसके ज्योतिषी उपाय
शनि दोष और उसके ज्योतिषी उपाय

दशम भाव में शनि :

-    आपको अपने कमरे में हर चीज़ ( जैसेकि परदे, बिस्तर की चादर, दीवार का रंग इत्यादि ) पीले रंग की ही इस्तेमाल करनी चाहिए.

-    साथ ही आप गुरुवार के दिन पीले लड्डू का दान करे या फिर उसे प्रसाद के रूप में बांटे.

-    समय मिलते ही आप शनि दोष निवारक मंत्र का जाप करे और आप शनि यन्त्र को धारण भी करे.


एकादश भाव में शनि :

-    अगर आपकी कुंडली के एकादश भाव में शनि है तो आप शनिवार के दिन सूर्योदय से पहले अपने घर के मुख्य दरवाजे के सामने भूमि पर शराब या फिर कडवा तेल डाले.

-    आप परस्त्री के साथ कभी भी अवैध संबंध न रखे.

-    आप कौओ को दाना डाले और शनिवार के दिन कुए में कच्चा दूध भी डाले.

-    आपको सबसे ज्यादा सावधान उन लोगो से रहना है जो आपके मित्र के वेश में आपके छुपे हुए शत्रु है.


द्वादश भाव में शनि :

-    सबसे पहले तो इन व्यक्तियों को झूठ का साथ छोड़ना होगा और हमेशा सत्य के मार्ग को अपना होगा.

-    साथ ही आप काले कुत्ते और गाय को शनिवार के दिन रोटी खिलाये और उनकी सेवा करें.

-    आपको शनिवार के दिन काली उड़द की दाल का दान करना चाहिए.

-    आप शराब और मांस से दूर रहे और शनि यन्त्र को धारण करे.

No comments:

Post a Comment