Monday, May 2, 2011

अगर उधार और कर्ज से बचना है तो...


ज्योतिष में बुध ग्रह को कर्ज, उधार और बिजनेस का स्वामी और कारक ग्रह माना गया हैं। बुध के शुभ प्रभाव से जातक को मान सम्मान मिलता है। बुध के प्रभाव से भाषण देना, बिक्री बढ़ाने की कोशिशें, किसी उत्पादन का प्रचार करना, मार्केटिंग, अभिनय, मॉडलिंग आदि कामों में सफलता मिलती है। ऐसा जातक सफल बिजनेस मेन बन जाता है। लाल किताब के अनुसार बुध दुसरे ग्रहों के फल को जातक तक पहुंचाता है। यदि कुंडली में बुध अशुभ होता है तो बने बनाएं काम बिगाड़ जाते है। कुंडली में बुध अच्छी स्थिति में होता है तो, महापुरुष योग भी बनाता है। राजयोग और बुधाआदित्य नाम के शुभ योग भी बुध के कारण बनते है।



उधार और कर्ज से बचने के लिए उपाय-

मेष- घोड़े को हरा चारा खिलाए या रोगीयों को औषधि का दान दें।

वृष- विद्यार्थियों को अध्ययन की सामग्री दान दें।

मिथुन- हरे पौधों को पानी दें या तोते को हरी मिर्च खिलाए।

कर्क- 10 वर्ष से कम उम्र वाली कन्या को मिठाई खिला कर भेंट दें।

सिंह- किन्नर को हरी चुडिय़ां दान दें।

कन्या- गाय को हरे मूंग खिलाए और हरे वस्त्र पहनें।

तुला- जरूरतमंद को हरे वस्त्र दान दें।

वृश्चिक- कुल देवी देवता को कांसे का दीपक लगांए।

धनु- जीवनसाथी को आभूषण या पन्ना रत्न पहनाएं।

मकर- किसी को ऋण दें या ऋण दिलाने में मदद करें।

कुंभ- किसी वृद्ध को हरे वस्त्र का दान दें।

मीन- गणेश जी को दूर्वा चढ़ाए।

No comments:

Post a Comment